Vinaora Nivo SliderVinaora Nivo SliderVinaora Nivo Slider
मीरा बाई
कृष्ण की परम भक्त
द्रौपदी
धर्मज्ञ नारी जिसके जन्म का उद्देश्य था धर्म की स्थापना
यशोधरा
भगवान बुद्ध की पत्नी - सांसारिक जीवन में रहकर भी त्याग-तपस्या की प्रतिमूर्ति

IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


IBC 24 चैनल मॆं साक्षात्कार

IBC 24 चैनल मॆं ममता अहार का साक्षात्कार प्रसारण दिनांक 10.11.15 और 12.11.15 समय 2.30 दोपहर


संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार

होटल हिल्टन क्रायड लंदन यू. कॆ. मॆं मीरा बाई का मंचन, विश्व हिन्दी साहित्य परिषद् द्वारा संस्कृति गौरव सम्मान एवं कॆ. सी. मालू (जयपुर राज.) लोक संगीत पुरस्कार लंदन मॆं प्रदान किया गया।


मीरा बाई, द्रौपदी का आयोजन

ग्वालियर (म. प्र) मॆं 05.02.2016 को मीरा बाई व 06.02.2016 को द्रौपदी का मंचन


परिचयः श्रीया आर्ट

श्रीया आर्ट पूर्व नाम अनुपमा आर्ट बच्चों में छिपी प्रतिभा को सामने लाने उन्हें नृत्य अभिनय की बारीकिया सिखाने का कार्य करती है साथ ही उन्हें मंच प्रदान करती है।

नाटय विधा बहुत ही सरल माध्यम है अपनी बात को जन जन तक पहुंचने का । चाहे वह किसी समस्या की बात हो या सामाजिक जन जागरण की बात हो।

सामाजिक विसंगतियां लोगों की पीड़ा को लेखन में ढाल कर हास्य व्यंग्य के माध्यम से अपनी बातों को सहजता से लोगों में हास्य रस का संचार करते हुये विषयों के प्रति हृदय में सुप्त उन संवेदनाओं को जागृत करती है जो समाज को एक अच्छी दिशा दे सकते हों।

श्रीया आर्ट हर साल नये प्रयोग कर किसी न किसी समस्या पर केंन्द्रित नाटय लेखन कर बच्चों को अभिनय के साथ सामाजिक संचेतना सिखाती है जिसमें बच्चे केवल अभिनय व नृत्य ही नहीं सिखते बल्कि उनमें भी आपसी मित्रवत भावना का विकास होता है जहां वे मिलकर किसी कार्य को पूरा करने की कोशिश करते हों। आपस में  मिलकर भोजन करते है, एक दूसरे के कष्टों को समझते है। एक दूसरे का सहयोग करते है। जहां प्रशिक्षण की शुरूआत या सरस्वती की पूजन और वंदना से होती है। ॐ का गुंजार कर शारीरिक व्यायाम किया जाता है जिसका उद्देश्य है भक्ति के साथ शरीर को उस लायक बनाना कि जब आप मुंह से अपनी बात कर रहे हो शरीर भी उस बात को कह सके, शरीर को लचीला बनाना, स्वर साधना, योग ज्ञान से शरीर और मन में सतुंलन, संयम बनाना। शिविर में आंगिक, वाचिक नाटय सिद्वांत, रंगमंच का सौन्दर्यशास्त्र, स्वर का उपयोग, रंग गातियां, नाट्य सामग्री का निर्माण, उनका उपयोग आदि का अभ्यास कराया जाता है किसी विषय पर चर्चा तथा अभिनय करने की क्षमता का विकास कराया जाता है जिससे बच्चों में वैचारिक क्षमता, तर्क शक्ति, आत्मविश्वास पैदा होता है और व्यक्तित्व का निर्माण होता है। क्रियाओं का उपयोग सिर्फ नाट्य विद्या में ही नहीं होता बल्कि जीवन में हर पल इनकी जरूरत होती है। 

श्रीया आर्ट नाट्य लेखन एवं उनका बेहतरीन ढंग से नृत्य एवं अभिनय के द्वारा प्रस्तुतिकरण के कारण राजधानीवासियों के हृदय में स्थान बनायें हुए है।

ग्रीष्म कालीन अवकाश में बालनृत्य नाट्य शिविर का आरंभ प्रति वर्ष 15date 15 अप्रैल से किया जाता है।

0214324
आज
कल
इस सप्ताह
पिछले सप्ताह
इस माह
पिछले माह
कुल
9
50
59
719
2691
3013
214324

पुराना वेबसाईट

वेबसाईट 2010से ...
Image Detail

संपर्क

एक पात्रीय संगीत नाटक "मीराबाई", "द्रौपदी" एवं "यशोधरा" का मंचन कराने हेतु संपर्क करें +91 93015 86893

संपर्क सूत्र

 
+91 93015 86893 
 
 
त्रिमूर्ति मंदिर के पीछे, हनुमान नगर, लाखे नगर,
रायपुर - 492013 (छत्तीसगढ़)
 
 
shreeyaart at gmail.com